pdfmandi-logo

www.pdfmandi.com

www.pdfmandi.com

यूपी बोर्ड परीक्षा 2022 होगी या नहीं जरुर पढ़े


माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश के सभी छात्रों के लिये गले की फाँस बना हुआ है लाकडाउन। इस लाकडाउन के वजह से न निगला जा रहा है और ना ही उगला जा रहा है। कोरोना ने प्रधानमन्त्री, मुख्यमन्त्री, शिक्षा मन्त्री को सही डिसीजन लेने लायक नही छोड़ा। आज के समय में पूर देश व प्रदेश के समस्त शिक्षण संस्थान अपनी विरामावस्था को प्राप्त कर लिये हैं। यहीं दूसरी तरफ छात्र परीक्षा को लेकर अपन भविष्य पर खुद से रोज रोज सवाल कर रहा है। जब उसको उसके सवाल का जबाव नही मिलता है तो वह इन्टरनेट की दुनिया में सैर करके गूगल से यूट्यूब से सीधा सवाल पूछता है और उस पर जाकर बहुत सारे ढोंगी और अफवाह फैलाने वाले फेक चैनल से मुलाकात हो जाती है। परिणाम यह होता है कि वह छात्र भ्रम के जाल में फँसता चला जाता है, अब न उससे पढ़ा जाता है और न उससे लिखा जाता है। ऐसी दशा में वह फ्रस्टेट होकर अपने मित्रों से सलाह लेना चाहता है लेकिन दुर्भाग्य ऐसा होता है कि उसके मित्र भी इसी बीमारी से जूझ रहे होते हैं तो वे उसको सही सलाह देने के वजाय अपनी पीड़ा सुनाने लगते हैं। हर जगह निराशा ही निराशा मिलती है। प्रधानमन्त्री, मुख्यमन्त्री अपने अपने राजनीतिक कैरियर को लेकर रोज मीटिंग कर रहे होते हैं रोज रैली के बारे में सोच रहे होते हैं रोज मतादाताओं के लुभाने के लिये नयी नयी योजना की घोषणा करते रहते हैं। अपने सांसदों और विधायकों की क्लास लेते रहतें हैं लेकिन एक भी बार देश के भविष्य बनान वाले छात्रों की परीक्षा के बारें में कोई योजना नहीं बनाते हैं। कोई घोषणा नही करते हैं कोई रैली नही निकालतें हैं। छात्रों को मूक समझ कर इनकी तरफ कोई ध्यान ही नही देते हैं। प्रिय छात्रों आगे की बात अगले दिन..... लिखेंगें